युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

22 अप्रैल 2010

लिफ्टिंग जल्दी करने के आदेश

डबवाली (लहू की लौ) अनाज मण्डी में खरीद एजेंसियों द्वारा लिफ्टिंग में बरती जा रही ढिलाई को लेकर आढ़तियों ने मार्किट कमेटी के प्रशासक तथा उपमण्डलाधीश डॉ. मुनीश नागपाल से शिकायत की। जिस पर उन्होंने सोमवार शाम को आढ़तियों, खरीद एजेंसियों तथा ठेकेदारों की बैठक बुलाई।
इस मौके पर आढ़तिया एसोसिएशन के प्रधान प्रकाश चन्द बांसल तथा आढ़तिया रमेश मिढ़ा ने उपमण्डलाधीश से शिकायत की कि अनाज मण्डी से मुश्किल से हर रोज 25 हजार गट्टा गेहूं उठाया जा रहा है। जबकि एक ही फर्म के दो लाख गट्टे लिफ्टिंग का मण्डी में इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने आढ़तियों की शिकायत सुनने के बाद खरीद एजेंसियों के अधिकारियों को निर्देश दिये कि हर हालत में लिफ्टिंग तैयार की जाये। खरीद एजेंसियों ने विश्वास दिलाया कि हर रोज 50 हजार गट्टा गेहूं अनाज मण्डी से उठाया जाएगा।
इस मौके पर मार्किट कमेटी डबवाली के कार्यकारी सचिव सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि अब तक डबवाली अनाज मण्डी से खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने दो लाख 73 हजार, स्टेट वेयर हाऊस ने 1 लाख 80 हजार, कनफेड ने 3 लाख 20 हजार, एग्रो ने 2 लाख 50 हजार, एफसीआई ने 60 हजार, हैफेड ने 32 हजार गेहूं के गट्टों की खरीद की है। जिसमें से खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने 65 हजार, स्टेट वेयर हाऊस ने 67 हजार, कनफेड ने 75 हजार, एग्रो ने 1 लाख 20 हजार, हैफेड ने 32 हजार गट्टे उठा लिये हैं। जबकि एफसीआई ने एक भी गट्टा नहीं उठाया है।
इस मौके पर उपस्थित ठेकेदार रमेश बागड़ी और भारत भूषण निरंकारी ने बताया कि ट्रकों की कमी है और लेबर भी कम मिल रही है। एफसीआई की चावलों की स्पैशल लगी हुई है। जिसके चलते लिफ्टिंग में कमजोरी आई है। लेकिन लिफ्टिंग तेज कर दी जाएगी। बैठक में खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के निरीक्षक अरविन्द पूनियां, स्टेट वेयर हाऊस के मदन सेठी, एग्रो के बिशन, हैफेड के लीलाधर, कनफेड के बूहड़ सिंह उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: