युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

07 अक्तूबर 2009

मां-बेटे ने नहर में छलांग लगाई

डबवाली (लहू की लौ) सदर थाना के अन्तर्गत गांव जण्डवाला बिश्नोईयां में मानसिक परेशानी के चलते मां-पुत्र ने भाखड़ा नहर में डूब कर आत्महत्या कर ली। ग्रामीणों के सहयोग से पुलिस ने शवों को बाहर निकाला और सामान्य अस्पताल पहुंचाया। पोस्टमार्टम के बाद शव वारिसों के सुपुर्द कर दिए। मिली जानकारी अुनसार गांव जण्डवाला बिश्नोईयां में दिवंगत मांगेराम का परिवार रहता है। कुछ समय पूर्व मांगे लाल का पुत्र विष्णु सड़क दुर्घटना में घायल हो गया था। विष्णु शारीरिक रूप से अपाहिज हो गया था। परिवार वाले उसकी इस हालत को देख कर काफी परेशान रहते थे। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विष्णु की इस हालत का देख कर उसकी मां लखेश्वरी देवी व भाई संजीव कुमार काफी परेशान रहते थे। मां-पुत्र विष्णु की देखभाल करने में स्वयं को असहाय महसूस करने लगे। बताया जाता है कि गत रात्रि दोनों मां-पुत्रों ने गांव के निकट से गुजर रही भाखड़ा नहर में छलांग लगा दी। ग्रामीणों ने नहर किनारे दोनों मां-पुत्रों के जूतों को देखकर उनके द्वारा आत्महत्या किए जाने का अंदेशा जताया। तदोपरांत इसकी सूचना चौटाला पुलिस चौकी को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से नहर से शव बाहर निकाले। एकाएक हुए इस हादसे गांव में शोक की लहर दौड़ गई।

कोई टिप्पणी नहीं: