युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

29 मार्च 2011

पूर्व एमपी के दिल का दर्द जुबां पर आया


सबक जरूर सिखाऊंगा-गिल
डबवाली (लहू की लौ) सिरसा संसदीय सीट से कांग्रेस के पूर्व सांसद आत्मा सिंह गिल ने कहा कि वे सब्र का घूट पीकर पार्टी हित में कार्य कर रहे हैं। लेकिन समय आने पर उन लोगों को जरूरत सबक सिखाएगा जिन्होंने उसके तथा उसके बेटे के साथ अन्याय किया है।
वे सोमवार को पीडब्ल्यूडी रैस्ट हाऊस में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उसे सिरसा संसदीय सीट से भले पार्टी ने एमपी का उम्मीदवार नहीं बनाया, लेकिन उसके बेटे की रतिया विधानसभा से टिकट काट दी गई, जबकि इस टिकट पर उसका हक था। उन्होंने भरे हृदय से कहा कि समय आने पर वह टिकट कटवाने वाले को जरूर पानी पिलाएंगे।
उन्होंने कहा कि पार्टी वर्करों ने उसे बताया है कि जब से अशोक तंवर सिरसा से सांसद बने हैं, तब से वह जनता में नहीं जा रहे। उनके अनुसार जो भी सांसद चुने जाने के बाद जनता में नहीं जाता, उसे खामियाजा भुगतना पड़ता है। पूर्व सांसद ने कहा कि वे हर माह डबवाली में कांग्रेस वर्करों की बैठक लेकर उन्हें पार्टी की जनहितैषी नीतियों से अवगत कराएंगे। इससे पूर्व आत्मा सिंह गिल ने पार्टी वर्करों की एक बैठक ली और उनके गिले-शिकवे सुने। इस अवसर पर आरके वर्मा, जगपाल सिंह, नन्द लाल धानक, सतपाल सत्ता, रघुवीर सिंह, बिमला महाशा, गुरबचन सिंह, नछत्तर सिंह मटदादू, लाभ सिंह, गोरा सिंह, रतन सिंह आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: