युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

13 फ़रवरी 2011

रेप के बाद वृद्धा की हत्या


डबवाली (लहू की लौ) गांव सांवतखेड़ा में 73 साल की गुरदेव कौर के हत्या के आरोप में थाना शहर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या और बलात्कार का मामला दर्ज करने के बाद हत्यारे की खोज के प्रयास तेज कर दिए हैं। इधर शव का शनिवार को पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव को उसके परिजनों को सौंप दिया।
गांव सांवतखेड़ा के हरमीक सिंह (32) पुत्र छिन्द्र सिंह ने बताया कि उसके दादा मग्घर सिंह की बहन गुरदेव कौर (73) पिछले पंद्रह सालों से उनके पास रह रही थी। वह एसीडीटी की रोगी थी और डॉक्टर ने उसे सैर करने के लिए कहा हुआ था। जिस पर वह अक्सर सैर के लिए उनके मसीतां रोड़ पर स्थित खेतों तक जाया करती थी। शुक्रवार दोपहर बाद वह सैर को गई थी। लेकिन वापिस नहीं लौटी। काफी इंतजार के बाद उसने अपने भाई हरजीत सिंह (30), दादा जय सिंह, ग्रामीण महेन्द्र सिंह, बिन्द्र सिंह, मलकीत सिंह आदि के साथ करीब 4.15 बजे उसकी तालाश शुरू कर दी।
हरमीक के अनुसार खोजते समय उसे सरसों के एक खेत की बलियां टूटी दिखाई दी। जिस पर उसका माथा ठनका। उन्होंने खेत में जाकर देखा तो वहां पर गुरदेव कौर के हाथ उसकी सलवार से बांधकर सलवार को गले में डाला हुआ था, जबकि पैर लोई से बांधे हुए थे। वे तुरंत उसे इलाज के लिए डबवाली के एक प्राईवेट अस्पताल में ले आए, वहां पर चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया।
डीएसपी बाबू लाल ने बताया कि हरमीक सिंह के ब्यान पर थाना शहर पुलिस डबवाली ने दफा 302/376 आईपीसी के तहत अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच थाना शहर प्रभारी बलवंत जस्सू को सौंपी गई है। उनके अनुसार आरोपी को ढूंढने के लिए पांच टीमें गठित की गई हैं। जिन्होंने अपना कार्य शुरू कर दिया  है। इन टीमों का नेतृत्व थाना शहर प्रभारी बलवंत जस्सू के साथ-साथ सीआईए सिरसा प्रभारी किशोरी लाल, सीआईए डबवाली प्रभारी हवा सिंह, एसआई मंदरूप सिंह, एएसआई जगदीश चन्द्र कर रहे हैं। साथ में साईबर सैल, सीन ऑन क्राईम तथा डॉग स्कवॉयड की मदद ली जा रही है। शनिवार को शव का पोस्टमार्टम करवाकर उसे उसके वारिसों को सौंप दिया गया।
यह है पोस्टमार्टम रिपोर्ट
मृतक गुरदेव कौर (73) का पोस्टमार्टम डॉक्टरों के दो सदस्यीय पैनल ने किया। जिसमें डॉ. सुखवंत सिंह तथा लेडी डॉक्टर अमरदीप जस्सी शामिल थे। पोस्टमार्टम के बाद डॉ. सुखवंत सिंह ने बताया कि गुरदेव कौर की हत्या गला दबाने से हुई है। उसके गले पर हाथ की अंगुलियों के निशान पाए गए हैं।
इधर डॉ. अमरदीप जस्सी ने बताया कि वृद्ध महिला गुरदेव कौर की हत्या गला दबाने से हुई है। बलात्कार की पुष्टि के लिए दो स्वैब तैयार करके मधुबन स्थित प्रयोगशाला में भेजे गए हैं। रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।
डॉग स्कवॉयड का क्या कहना
डॉग स्कवॉयड की टीम ने शनिवार को उक्त खेत का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद टीम के प्रभारी राममेहर ने बताया कि खेत में दो पैरों के निशान मिले हैं। जिनमें से एक पैर के कुछ नहीं पहना हुआ है, जबकि एक के जूते पहने हुए हैं। टीम के खोजी कुत्ते ने पैरों के दोनों निशानों को टोहा। खोजी कुत्ता सड़क से खेत की ओर करीब 40 कदम तक गया। खेत के इर्द-गिर्द दो दिशाओं में ही घूमता रहा। आशंका है कि वारदात को दो लोगों ने अंजाम दिया। यह भी अनुमान लगाया जा सकता है कि वारदात के बाद दोनों अलग-अलग दिशाओं में फरार हुए।
घटना की सूचना पाकर सीन ऑफ क्राईम के जिला प्रभारी डॉ. जोगिन्द्र सिंह के अनुसार घटना स्थल से टीम को कान की बाली तथा बाल बरामद हुए हैं। ऐसा लगता है जैसे मृतका को घसीटा गया हो। यह पूर्णतय ब्लाईंड मर्डर है।

कोई टिप्पणी नहीं: