युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

17 जून 2011

घरेलू हिंसा के खिलाफ युवती ने उठाई आवाज

डबवाली (लहू की लौ) गांव गोदीकां की एक युवती ने अपने पति के खिलाफ घरेलू हिंसा और दहेज मांगने का आरोप लगाते हुए एसपी को एक शिकायत देकर न्याय की गुहार लगाई है।
गांव गोदीकां के जसवंत सिंह की पुत्री बब्बू जिला सिरसा के गांव साहूवाला प्रथम के रामजी लाल के बेटे निरंकार से विवाहिता है। उसेक दो बच्चे हैं। बब्बू करीब दस दिन पूर्व अपने बच्चों के साथ अपने मायके गोदीकां में आई हुई थी। इसी दौरान वह अपनी माता बिमला देवी के साथ रानियां में अपने ननिहाल चली गई। एसपी सिरसा को दी शिकायत में बब्बू ने कहा है कि उसका रानियां जाना उसके पति निरंकार को नागवार गुजरा। उसके पति ने उससे रानियां जाने पर डांटा। जीप पर सवार होकर आया निरंकार उसके बच्चों दो वर्षीय ज्योति तथा 11 माह के बेटे लक्की को गांव गोदीकां से उठा ले गया।
एसपी से न्याय की गुहार लगाते हुए पीडि़तो ने अपने पति पर दहेज मांगने का भी आरोप जड़ दिया है। साथ में पुलिस से कहा है कि उसके बच्चों को भी उसके साथ मिलाया जाए।
थाना सदर प्रभारी एसआई रतन सिंह ने बताया कि इस मामले को लेकर उन्होंने एसपी के आदेश पर दोनों पक्षों को थाना में बुलाकर इस मामले को निपटाने के लिए तीन दिन का समय दिया है। अगर दोनों में राजीमंदा हो जाता है तो ठीक है, अन्यथा पुलिस कानूनी कार्रवाई को बाध्य होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: