युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

19 जुलाई 2010

प्रेमी जोड़े ने जहर निगला

डबवाली (लहू की लौ) गांव बांडी में एक विवाहित प्रेमी जोड़े ने जहरीला पदार्थ निगल कर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। 
थाना संगत के एएसआई तथा जांच अधिकारी सुबेग सिंह ने बताया कि गांव बांडी का मुकेश कुमार (30) पुत्र हीरा लाल धोबियाना मुहल्ला बठिंडा में पूजा रानी पुत्री वजेन्द्र कुमार से विवाहित था और इधर गांव भागीबंदर की पूजा रानी (30) इसी मुहल्ले के राजेन्द्र कुमार पुत्र हरी राम के साथ विवाहिता थी। 
उनके अनुसार दो वर्ष पूर्व मुकेश बांडी तथा पूजा भागीबंदर के बीच प्रेम संबंध पैदा हो गये और दोनों एक साथ रहने लगे। जिस पर दोनों के ही अभिभावकों ने ऐतराज जताया और इस संबंध में एक बार तलबंडी साबो थाना में पंचायत भी हुई और उस पंचायत में यह तय हुआ कि यह दोनों एक-दूसरे से नहीं मिलेंगे।
लेकिन पिछले 10 दिनों से मुकेश और पूजा फिर एक-दूसरे से मिलने लगे और शुक्रवार शाम को गांव बांडी के खेतों में जाकर दोनों ने जहर निगल लिया। मुकेश के पिता हीरा लाल पुत्र मंगत राम बांडी ने पुलिस को दिये ब्यान में बताया कि जहरीला पदार्थ निगलने के बाद यह दोनों घर आ गये और कहने लगे कि उन्होंने तो जहरीला पदार्थ निगल कर जीवन लीला समाप्त कर ली है। दोनों को गंभीर हालत में जब अस्पताल ले जाया जा रहा था तो मार्ग में ही दोनों ने दम तोड़ दिया।



दम्पत्ति झुलसा, महिला की मौत


डबवाली (लहू की लौ) थाना संगत के अन्तर्गत आने वाले गांव मशाना में शुक्रवार की रात को अपने घर पर स्टोव पर खाना बनाते समय आग लग जाने से दम्पत्ति झुलस गया। जबकि महिला की मौत हो गई।
थाना संगत प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप सिंह भाटी  ने बताया कि गांव मशाना में जोगिन्द्र कौर उर्फ कुलदीप कौर (40) पत्नी दर्शन सिंह शुक्रवार की रात को करीब 8 बजे अपने घर में स्टोव पर खाना बना रही थी कि अचानक उसके कपड़ों को आग लग गई। उसके शोर करने पर उसके बचाव के लिए जैसे ही दर्शन सिंह आग बुझाने का प्रयास करने लगा तो आग ने उसे भी दबोच लिया।
जोगिन्द्र कौर की मौका पर ही मौत हो गई। जबकि उसका पति दर्शन सिंह अभी भी सिविल अस्पताल बठिंडा में जीवन और मौत के बीच संघर्ष कर रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं: