युवा दिलों की धड़कन, जन जागृति का दर्पण, निष्पक्ष एवं निर्भिक समाचार पत्र

25 सितंबर 2009

रेलवे स्टेशन पर सवारी की चैन खींचता काबू

डबवाली (लहू की लौ) यहां के रेलवे स्टेशन पर चैन छीनने की घटना को अंजाम देेते हुए चैन स्नेचर गिरोह के एक सदस्य के पकड़े जाने से एक बड़ी वारदात होने से टल गई। प्राप्त जानकारी अनुसार यहां के पब्लिक क्लब के पीछे स्थित हरी चन्द हलवाई की विवाहिता बेटी सुमन रानी वीरवार को डबवाली के रेलवे स्टेशन पर सूरतगढ़-बठिंडा रेलगाड़ी पर अपने सुसराल मानसा जाने के लिए सवार हो रही थी कि अचानक एक महिला, दो लड़कियां और एक लड़के ने उसका रास्ता रोक लिया और धक्का-मुक्की करने लगे। इसी दौरान उसे महसूस हुआ कि किसी ने उसके गले में डाली सोने की चैन उतार ली है। जब उसने अपने गले की ओर देखा तो चैन गायब थी। इस घटना को जीआरपी का सिपाही देेख रहा था। उसने झपक कर चैन छीनने वाले लड़के को दबोच लिया जबकि लड़के के अन्य साथी फरार हो गये। पूछताछ के दौरान लड़के ने अपना नाम पौंसी निवासी अलवर (राज.) बताया। इसके बाद जीआरपी और आरपीएफ सक्रिय हो गये और उन्होंने प्लेटफार्म पर जमा बेटिकटे लोगों को खदेड़ा। माना जा रहा है कि अगर समय रहते कार्यवाही न की होती तो चैन स्नेचर गिरोह किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सकता था।

कोई टिप्पणी नहीं: